सतनामी पंथ के नियम

सतनामी पंथ के नियम

सत्तनामी पंथ के नियम!
१- ग्यान को प्राप्त करना निर्वान ग्यान रोज पढना सुनना समझना व भेदी होना है!भेदी होने से आत्मा को सुख प्राप्त होता है!मन का अँधेरा दूर होता है!और आत्मवल मे मजबूती आती है !
भय भर्म दूर हो जाते है!सुख शान्ति का मार्ग दिखता है!
साध बनते है!अनेक दुख बुराईयों से हम सब मनुष्य बनते है!बुध्दिमानी आती है!
एेसे ही अनेक लाभ प्राप्त होते है!
ग्यान प्राप्ति के लिए परमानी पहुँचे हुये संतन की कहन अर्थात निर्बान ग्यान नित्य पढ़े!याद कंठ करले!
इसके अर्थो की बूझ करें!हम समझे साध सै मेल करें!मिलकर हम बिचार करें!और सच्चाई ग्रहण करें!!
सतनाम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *